Mahi Info

PFMS, DBT, RFT, FTO, NPCI, UIDAI – इन सभी से फार्म सही होने पर मिलते हैं सालाना₹6000

DBT, NPCI, FTO, RFT, PFMS

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के सालाना ₹6000 की राशि प्राप्त करने के लिए उन सभी तरीकों से फॉर्म को सही करना अनिवार्य है अन्यथा अगर फोर्म में कोई समस्या है तो पैसा नहीं मिलता है,

लेकिन इन सभी का मतलब क्या होता है और किस तरह से किसान के ₹2000 बैंक तक पहुंचती है, इसका प्रोसेस और इन सभी का मतलब जानिए

NPCI Link क्यों जरूरी है?

NPCI = National Payment Corporation of India

एनपीसीआई यानी नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया, बैंक खाते में आधार एनपीसीआई लिंक होना बहुत ही अनिवार्य है अगर बैंक खाते में आधार एनपीसीआई के माध्यम से लिंक है तभी सरकार द्वारा डीबीटी का जो पैसा भेजा गया है वह किसान को आसानी से आधार नंबर के माध्यम से ही मिल जाता है, अब सरकार सिर्फ आधार के माध्यम से ही पैसे भेज रही हैं जिस किसान के बैंक खाते में आधार एनपीसीआई से लिंक है तभी पैसा मिलता है,

UIDAI वेरिफिकेशन क्यों जरूरी है?

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना को अब पूरी तरह से आधार बेस कर दिया है और इसमें यूआईडीएआई का बहुत अहम रोल होता है, इसी के माध्यम से किसान का पहले वेरिफिकेशन होता है और फिर आवेदन को मान्य किया जाता है, पहले के जो आवेदन थे उनको भी ईकेवाईसी के माध्यम से आधार बेस किया गया है,

RFT क्या है कैसे काम करती है?

RFT = request fund transfer

राज्य सरकार की तरफ से form check के बाद किसान का फॉर्म केंद्र सरकार के पास भेजा जाता है उसी स्थिति में किसानों के स्टेटस में सरकार द्वारा अपडेट दिया जाता है ‘आरएफटी‘ और इससे किसान को पता चल जाता है कि किसान का फॉर्म राज्य सरकार की तरफ से जांच आ जा चुका है और अब केंद्र सरकार के पास है ₹2000 की किस्त के लिए रिक्वेस्ट किया जा रहा है,

FTO क्या है?

FTO = fund transfer order

किसान का फॉर्म सभी जगह से पास होने के बाद केंद्र सरकार के पास ₹2000 की किस्त का आर्डर मिलने पर किसान के स्टेटस में यह अपडेट दिखाया जाता है, इसका मतलब होता है फंड ट्रांसफर आर्डर, यानी किसान को बहुत ही जल्द पैसा मिलने वाला है, इसलिए किसान के स्टेटस में इस तरह का अपडेट दिखाया जाता है,

DBT से पैसा कैसे मिलता है?

DBT = direct benefit transfer

सभी योजनाओं का पैसा मोदी सरकार डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर यानी प्रत्यक्ष लाभ अंतरण के माध्यम से ही देती है, इसका मतलब होता है कोई भी बीच में अधिकारी नहीं , माननीय प्रधानमंत्री जी जैसे ही बटन दबाते हैं तो डायरेक्ट किसानों के बैंक खाते तक पैसा पहुंच जाता है, इसी पद्धति को प्रत्यक्ष लाभ अंतरण बोला जाता है,

PFMS Bank क्या है कैसे किसान तक पैसे भेजता है?

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना में इस बैंक का बहुत अहम रोल माना जाता है क्योंकि यही बैंक है जो किसान के बैंक के संबंधित डिटेल को चेक करता है और सही पाए जाने पर ही पैसे भेजता है अन्यथा किसान का फॉर्म रिजेक्ट कर देता है, पीएम किसान योजना का पैसा इसी बैंक के माध्यम से भेजा जाता है, अगर किसान के बैंक के सामान्य डिटेल सही है तभी किसान को पैसे मिलते हैं अन्यथा यह बैंक रिजेक्ट या पेंडिंग रखता है,

Pfms bank rejected, farmer record has been rejected by Pfms Bank, Correction is banding at state Pfms bank,

PM Kisan PFMS Bank Status

अब नए किसान आवेदन से लेकर पैसे आने तक का प्रोसेस इस समीकरण 👇से आप समझ सकते हैं,

इसी तरह किसान का सबसे पहले आवेदन उसके बाद आधार वेरीफिकेशन और पीएफएमएस बैंक के द्वारा जांच और फिर राज्य और केंद्र के पास फॉर्म पहुंचता है और ₹2000 की किस्त किसान के बैंक खाते तक डीबीटी द्वारा भेजी जाती है,

PFMS, DBT, RFT, FTO, NPCI

Leave a comment